वरुण चक्रवर्ती का जीवन परिचय | Varun Chakravarthy Biography in Hindi

pic source: indianexpress.com

वरुण चक्रवर्ती को मिस्ट्री स्पिनर भी कहा जाता है। वैसे तो भारत में स्पिनर की कमी नही है लेकिन उनमे से सिर्फ इनको ही मिस्ट्री स्पिनर का नाम देना इस बात की तरफ इशारा कर्ता है कि उनमे टैलेंट की कोई कमी नही है और आगे चलकर वे देश का नाम रोशन कर सकते हैं। भारत की तरफ से खेलने के लिए उनका चयन तो हो गया है लेकिन जैसे जैसे वो मैच खेलते जायेंगे वेसे वेसे उनका अनुभव भी बढेगा और वे अपने आप में और भी ज्यादा सुधर कर सकते हैं। इस टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में वरुण चक्रवर्ती को स्पिनर के तौर पर चुना गया है।

एक समय ऐसा भी आया जब वरुण ने क्रिकेट को छोड़ दिया था और उन्होंने नौकरी शुरू कर ली थी। लेकिन कहते हैं जहां चाह वहां राह, और आज देश के बहतरीन स्पिनर में से एक हैं। आइये जानते हैं इस मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती के जीवन परिचय (Varun Chakravarthy Biography in Hindi) के बारे में:

वरुण चक्रवर्ती का जीवन परिचय एक नज़र में (Varun Chakravarthy Biography in Hindi)

पूरा नामवरुण चक्रवर्ती विनोद 
आयु29 साल
खेलक्रिकेट
जन्म तिथि29 अगस्त 1991
जन्मस्थानतंजावुर, तमिलनाडु 
धर्महिन्दू
माता का नाममालिनी चक्रवर्ती
पिता का नामसीवी विनोद चक्रवर्ती
पत्नी का नामनेहा खेडेकरी
हाईट170 सेमी – 175 सेमी (लगभग)
वजन70 किलो (लगभग)
कोचपीटर फर्नांडीज
उपलब्धि2018-19 विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु के लिए अग्रणी विकेट लेने वाले गेंदबाज।
कुल मूल्य₹15 करोड़ से ₹20 करोड़।
बल्लेबाजी शैलीदाएं हाथ के बल्लेबाज
गेंदबाजी शैलीदाहिने हाथ के गेंदबाज
आईपीएल डेब्यू27 मार्च 2019
स्कूलएसटी पैट्रिक स्कूल, चेन्नई
कॉलेजएसआरएम विश्वविद्यालय, चेन्नई
शैक्षिक योग्यतावास्तुकला में स्नातक
राष्ट्रीयताभारतीय

वरुण चक्रवर्ती कौन हैं?

वरुण चक्रवर्ती एक भारतीय क्रिकेटर हैं और मुख्य भूमिका इनकी गेंदबाज के तौर पर है जो तमिलनाडु की टीम से खेलते हैं और स्पिन गेंदबाजी करते हैं। टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए टीम में इनका चयन हुआ है और ये एक मिस्ट्री स्पिनर के तौर पर जाने जाते हैं जिनसे इस टी-20 विश्व कप में काफी उम्मीदें हैं।

वरुण चक्रवर्ती का जन्म और परिवार (Varun Chakravarthy Birth & Family)

वरुण चक्रवर्ती का जन्म 29 अगस्त 1991 में तंजावुर, तमिलनाडु में हुआ था। वरुण एक मध्यम वर्गीय परिवार से आते हैं, इन्होने अपने स्कूल के समय से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था।

वरुण चक्रवर्ती का वैवाहिक जीवन (Varun Chakravarthy Married Life)

वरुण चक्रवर्ती विवाहित हैं और साल 2020 में इन्होंने नेहा खेडेकरी से शादी कर ली। कहा जाता है कि नेहा खेडेकरी इनकी काफी पुरानी दोस्त और गर्लफ्रेंड थी जिन्होंने साल 2020 में साथ साथ जिन्दगी का सफ़र तय करने का निर्णय लिया और शादी के पवित्र बंधन में बंध गये।

वरुण चक्रवर्ती का प्रारंभिक जीवन

वरुण चक्रवर्ती अपने स्कूल के दिनों में एक गेंदबाज नही बल्कि विकेट कीपर बल्लेबाज़ के तौर पर क्रिकेट खेला करते थे और उस समय उनकी उम्र 13 साल थी। इसी तरह 17 साल की उम्र तक उन्होंने विकेट कीपर बल्लेबाज़ के तौर पर क्रिकेट खेला। लेकिन कहते हैं न किस्मत से ज्यादा और वक्त से पहले कभी किसी को कुछ नहीं मिलता, और कुछ ऐसा ही वरुण के साथ भी हुआ। उन्हें ऐज ग्रुप क्रिकेट (Age Group Cricket) में कई बार रिजेक्शन का सामना करना पड़ा।

जब वरुण के घरवालो ने देखा कि क्रिकेट में कुछ सफलता देखने को नही मिल रही है तो उनके द्वारा वरुण पर अपनी पढ़ाई पूरी करने का दबाव बनने लगा। पढ़ाई को पूरी करने के चलते वरुण को अपना क्रिकेट करियर छोड़ना पड़ा। क्रिकेट छोड़ वरुण चक्रवर्ती ने चेन्नई के SRM यूनिवर्सिटी से अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की।

वरुण चक्रवर्ती ने नौकरी क्यों छोड़ दी?

वरुण चक्रवर्ती ने 5 साल तक आर्किटेक्चर की पढ़ाई की और पढ़ाई पूरी करने के बाद आर्किटेक्ट सेक्टर में नौकरी करने लगे। सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक की नौकरी में उनका मन नहीं लगता था। अभी भी वरुण क्रिकेट के बारे में ही सोचा करते थे। क्रिकेट उनका पैशन था। इस बीच उनको जब भी समय मिलता या वीकेंड पर टेनिस बॉल से क्रिकेट खेला करते थे। क्रिकेटर बनने के अधूरे सपने उन्हें सोने नहीं देते थे। फिर उनका सपना उनकी नौकरी पर भारी पड़ गया। वरुण चक्रवर्ती ने क्रिकेट के लिए नौकरी छोड़ दी और क्रोमबेस्ट क्रिकेट अकादमी को जॉइन कर लिया।

वरुण चक्रवर्ती का शुरुआती करियर

वरुण चक्रवर्ती ने क्रिकेट अकादमी में फ़ास्ट बॉलर-आलराउंडर की तरह क्रिकेट खेलना शुरू किया पर यहाँ भी किस्मत ने साथ नही दिया। वरुण को दूसरे ही मैच में चोट लग गयी। घुटने में चोट के चलते वरुण को काफी दिनों तक क्रिकेट खेलने का मौका नही मिला, तो उन्होंने फिर स्पिन गेंदबाजी करना शुरू किया। वरुण को टेनिस बॉल में 18 गज की पिच पर बोलिंग करनी होती थी और ऐसे में वरुण ने अपनी स्पिन गेंदबाज़ी में ढेर सारी वेरिएशन सीख ली। और यही वजह रही कि वरुण को लोग मिस्ट्री स्पिनर के नाम से जानने लगे।

क्रिकेट में वापसी के बाद उन्होंने चेन्नई लीग के चौथे सीजन में जुबली क्रिकेट क्लब को जॉइन किया। इस टूर्नामेंट (2017-18) में उन्होंने घातक बोलिंग की जिसमे उन्होंने सिर्फ 7 मैचों में 31 विकेट (एवरेज 8.26, इकॉनमी रेट 3.06) लेकर तहलका मचा दिया। इसके बाद तमिलनाडु प्रीमियर लीग में शिचम मधुरई पैंथर टीम से खेलने का मौका मिला।

इस टूर्नामेंट में वरुण ने अपनी टीम से घातक गेंदबाज़ी की और इसी की बदोलत उनकी टीम उस साल के टूर्नामेंट को जीत गई। टूर्नामेंट के फाइनल मैच में वरुण ने 16 रन देकर 3 विकेट झटके। इस प्रदर्शन को देख मैच में कमेंट्री कर रहे ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज़ माइक हस्सी ने कहा कि वरुण चक्रवर्ती एक अलग तरह का बेहतरीन टैलेंट है।

वरुण चक्रवर्ती का घरेलू क्रिकेट करियर

साल 2018 में वरुण को विजय हजारे ट्राफी के लिए लिस्ट-A क्रिकेट में खेलने का मौका मिला और उन्हें तमिलनाडु की टीम में शामिल कर लिया गया, जहाँ इस मिस्ट्री स्पिनर ने 4.2 की इकॉनोमी से 9 मैच में 22 विकेट झटके और वहीं से वरुण के लिए रणजी ट्राफी के लिए भी दरवाजे खुल गये। नवम्बर 2019 में उन्होंने अपने रणजी करियर की शुरुआत की।

वरुण चक्रवर्ती का आईपीएल करियर

आईपीएल 2019 के लिए हुई नीलामी में वरुण चक्रवर्ती को किंग्स इलेवन पंजाब ने 8.4 करोड़ रूपये की महंगी कीमत देकर अपनी टीम में शामिल किया। लेकिन किस्मत से एक ओवर ख़राब होने के चलते उन्हें किंग्स इलेवन पंजाब की टीम से एक ही मैच खेलने को मिला। इसके बावजूद आईपीएल 2020 में कोलकाता नाईट राइडर्स ने इन पर विश्वास जताया और भारतीय अनकेप खिलाडियों में सबसे महँगी बोली लगाकर ख़रीदा।

वरुण चक्रवर्ती का अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू

वरुण चक्रवर्ती के आईपीएल मे कमाल के खेल को देखते हुए 2020 मे ऑस्ट्रेलिया के साथ के टी-20 श्रृंखला में उनका चयन किया गया लेकिन चोट के चलते वरुण अपना डेब्यू नहीं कर पाए। इसके बाद वरुण चक्रवर्ती को इंग्लैंड के दौरे के लिए फिर से इंडिया की टीम में चुना गया लेकिन वरुण ने यो-यो टेस्ट पास नहीं किया इसलिए उनको टीम में नहीं चुना गया।

2021 मे वरुण चक्रवर्ती का नाम श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी-20 दोनों मे शामिल किया गया और 25 जुलाई 2021 को वरुण ने अपना टी-20 प्रदार्पण डेब्यू किया। साल 2021 में टी-20 वर्ल्ड कप में इनका चयन हुआ है और स्पिनर के तौर पर वे वर्ल्ड कप का आगाज करेंगे।

वरुण चक्रवर्ती को मिस्ट्री स्पिनर क्यों कहा जाता है?

वरुण चक्रवर्ती लेगब्रेक, ऑफब्रेक, गुगली, कैरमबॉल, फ्लिपर, स्लाइडर और टॉपस्पिन जेसी खतरनाक गेंदबाज़ी करना जानते हैं, उनकी गेंदबाजी में इतने वैरीएशन देखने के बाद इस हुनर के कारण उनको मिस्ट्री स्पिनर कहा जाता है।

वरुण चक्रवर्ती की Net Worth कितनी है?

ख़बरों के अनुसार, वरुण चक्रवर्ती आईपीएल टीम के लिए एक क्रिकेट मैच खेलने के लिए लगभग ₹1 लाख से ₹15 लाख तक चार्ज करते हैं। उनकी कमाई का मुख्य जरिया आईपीएल में क्रिकेट खेलना है। उनकी कुल संपत्ति लगभग ₹15 करोड़ से ₹20 करोड़ है और वेतन लगभग ₹4 करोड़ प्रति वर्ष है।

यह भी देखें 👉👉 नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय

यह भी देखें 👉👉 कृष्णा नागर का जीवन परिचय