Castor Oil in Hindi Uses, Benefits | कैस्टर ऑयल या अरंडी का तेल क्या है?

Castor Oil in Hindi Uses, Benefits – कैस्टर ऑयल या अरंडी के तेल के बारे में आप लोगों ने कभी ना कभी तो सुना ही होगा। इस तेल का उपयोग करने से हमें काफी फायदा पहुंचता है इसलिए हजारों सालों वर्षों से लोग इसका इस्तेमाल करते आ रहे है। आज के हमारे इस लेख में हम आपको कैस्टर ऑयल क्या है या अरंडी का तेल क्या है और यह हमारे लिए किस प्रकार उपयोगी है से जुड़ी जानकारी आपको प्रदान करेंगे। हमारा देश भारत प्रतिवर्ष ढाई लाख से 3.30 लाख टन के बीच कैस्टर ऑयल या अरंडी के तेल का उत्पादन करता है इसलिए भारत इसके उत्पादन में सबसे पहले स्थान पर है। अरंडी का तेल या कैस्टर ऑयल हमारी त्वचा बालों व स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी है।

आज के इस लेख में हम आपको कैस्टर ऑयल क्या होता है (Castor Oil kya hota hai) या अरंडी का तेल क्या है? इसके क्या लाभ है और इसके साथ ही इसके नुकसान से भी आपको अवगत करवाएँगे इसके साथ ही इससे जुडी अन्य जानकरी भी आपके साथ साँझा करेंगे।

Contents

कैस्टर ऑयल क्या होता है? (Castor Oil kya hota hai)

कैस्टर ऑयल वनस्पति तेल की श्रेणी में ही आता है। इसे हिंदी में अरंडी के तेल के नाम से जानते हैं। यह पीले रंग का पारदर्शी तरल होता है जिसका पौधा मुख्य रूप से अफ्रीका और भारत में मिलता है। वैसे भारत के राज्य में अरंडी के तेल को अलग-अलग नामों से जानते है। अरंडी का तेल बहुत प्राचीन समय से उपयोग में लाया जाता रहा है इसलिए इसे औषधीय तेल भी कहा जाता है जिससे कई समस्याओं का इलाज संभव है।

कैस्टर ऑयल को बनाने के लिए इसके पौधे से बीजों को अलग किया जाता है जिसके बाद बीजों को दबाकर उनमें से तेल निकाल लिया जाता है जिसके बाद यह गाढे और हल्के पीले तरल पदार्थ के रूप में प्राप्त होता है। वर्तमान समय में इस तेल को साबुन सौंदर्य प्रसाधन फंगल संक्रमण का इलाज त्वचा में पिगमेंटेशन बुढ़ापे की प्रक्रिया को कम करना मुहांसों व अनेक चीजों के लिए प्रयोग किया जाता है इसके साथ ही यह दवाइयों में भी प्रयोग किया जाने लगा है।

कैस्टर ऑयल के प्रकार (Castor Oil types)

कैस्टर ऑयल या अरंडी का तेल मुख्य रूप से तीन प्रकार का है जो निम्नलिखित हैं:-

ऑर्गेनिक कोल्ड-प्रेस्ड कैस्टर ऑयल

इस तेल को बनाने के लिए किसी भी हिट प्रोसेस का प्रयोग नहीं किया जाता है। क्योंकि यह तेल सीधा अरंडी के बीजों से प्राप्त होता है। जब इस तेल को गर्म करके निकाला जाता है तो इसके कई पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। इस तेल का रंग हल्का पीला होता है इसलिए आप जब भी ऑर्गेनिक कैस्टर ऑयल लेने जाए तो इसके रंग पर जरूर ध्यान दें।

जमैकन ब्लैक कैस्टर ऑयल

इस तेल को बनाने के लिए सबसे पहले अरंडी के बीजों को भूना जाता है और उसके बाद इनमें से तेल को निकाला जाता है। फिर इसमें बची हुई राख को भी मिक्स कर दिया जाता है जिसके कारण यह तेल काले रंग का होता है। तेल में भी सभी पोषक तत्व मौजूद होते हैं लेकिन यह थोड़ा खारा होता है।

हाइड्रोजनेटेड कैस्टर ऑयल

हाइड्रोजनेटेड कैस्टर ऑयल को कैस्टर वैक्स के नाम से भी जाना जाता है। इसमें एक प्रकार का रसायनिक तत्व जैसे निकल कहा जाता है मौजूद होता है। इस तेल की खासियत यह है कि यह पानी में घुलनशील नहीं है इसके साथ ही इसमें किसी भी प्रकार की गंध नहीं होती। इस तेल को कॉस्मेटिक प्रोडक्ट बनाने के लिए उपयोग किया जाता है।

कैस्टर ऑयल के लाभ (Castor Oil benefits in Hindi)

कैस्टर ऑयल या अरंडी के तेल में एंटीबैक्टीरियल व सूजन रोधी गुण पाए जाते हैं। अगर आप इस तेल का इस्तेमाल लंबे समय तक सही तरीके से करते हैं तो आपको इसके अनेकों लाभ प्राप्त होते हैं जोकि निम्नलिखित है:-

सेहत के लिए लाभ (Castor Oil benefits for health)

कैस्टर ऑयल में बहुत चमत्कारी गुण होते हैं क्योंकि यह एक औषधीय तेल है अगर आप इसका सेवन करते है तो इससे बीमारियां आपसे कोसों दूर रहेंगी

  • दर्द से राहत:- जब भी जोड़ों व मांसपेशियों में दर्द होता है तो उसके लिए आप अरंडी के तेल मे लहसुन को कूट कर डाल लें और उसे अच्छी तरह पका लें। इसके बाद हल्का गुनगुना होने पर इस तेल से मसाज करें। इसके प्रयोग से आपको दर्द में राहत मिलेगी।
  • गैस की समस्या से छुटकारा:- कैस्टर ऑयल मे लैक्सटिव तत्व पाया जाता है जो कि गैस की समस्या में राहत प्रदान करता है इसके लिए आपको संतरे के जूस में थोड़ा सा कष्ट और मिलाकर उसे पी लेना है। कुछ ही समय में आपको कब्ज की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।
  • इम्यूनिटी मजबूत करने में सहायक:- कैस्टर ऑयल इम्यूनिटी या प्रतिरोध क्षमता को मजबूत करने के लिए भी बहुत लाभकारी है। अगर आप कैस्टर ऑयल का उपयोग दूध के साथ करते हैं तो यह आपकी इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है।
  • घाव जल्दी भरने में सहायक:- कैस्टर ऑयल मृत कोशिकाओं को हटाकर नई कोशिकाओं का निर्माण तेजी से करता है। इसलिए जब इस तेल का प्रयोग घावों पर किया जाता है तो घाव जल्दी भर जाते हैं और रूखापन भी खत्म होता है।

त्वचा के लिए लाभ (Castor Oil benefits for skin in Hindi)

जिस प्रकार कैस्टर ऑयल सेहत के लिए लाभकारी है उसी प्रकार इसके त्वचा के लिए भी अनेको फायदे है:-

  • मुहांसों को हटाने में उपयोगी:- जैसा कि आप जान चुके हैं अरंडी के तेल में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जिससे इसमे मौजूद रीसीनोलिक एसिड मुहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को रोकने में लाभकारी रहता है। वहीं अगर आप इसका लगातार उपयोग करते हैं तो आपके चेहरे के दाग धब्बे भी कम हो जाते हैं। इसके लिए आपको गर्म पानी से अपने चेहरे को अच्छी प्रकार धो लेना है जिससे आपके चेहरे के चित्र खुल जाएंगे उसके बाद तेल को अपने चेहरे पर अच्छी तरह मसाज कर ले और रात भर लगा रहने दे। अगले दिन आप ठंडे पानी से अपना चेहरा धो लें।
  • दाग धब्बों को हटाने में उपयोगी:- कई बार हमारे चेहरे पर काले धब्बे व निशान नजर आने लगते हैं। इसके लिए भी आप अरंडी के तेल का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि इसमें फैटी एसिड मौजूद रहता है जो त्वचा के स्कार टिशु में जाकर उन्हें स्वस्थ टिशू में बदल देता है जिससे धीरे-धीरे दाग धब्बे कम होने लगते हैं।
  • बढ़ती उम्र का असर कम करने में उपयोगी:- अरंडी के तेल का एक बहुत ही लाजवाब लाभ यह है कि यह त्वचा पर बुढ़ापे का असर नहीं आने देता। जब आप अपनी त्वचा पर अरंडी के तेल का उपयोग करते हैं तो यह त्वचा के अंदर प्रवेश कर कोलेजन और ईलेस्टिन को उत्पन्न करता है जिससे त्वचा हाइड्रेट व नरम होती है और इसका असर यह है कि आपके चेहरे की झुर्रियां और फाइनलाइन कम होने लगती है साथ ही आपके चेहरे पर चमक भी आती है। आपको सबसे पहले अपने चेहरे को अच्छी तरह धो लेना है अब इसके बाद धीरे-धीरे अरंडी के तेल को अपने चेहरे पर लगाते हुए अच्छे से मसाज करें और यह प्रक्रिया आपको हमेशा रात में सोने से पहले करनी है।
  • त्वचा की सूजन कम करने में उपयोगी:- अरंडी के तेल में फैटी एसिड व रिकीनोलिक एसिड पाया जाता है जो सूजन को कम करने में बहुत प्रभावशाली है। त्वचा की सूजन सनबर्न मुहासे रूखी त्वचा के लिए अरंडी का तेल एक वरदान है। अरंडी का तेल उपयोग करने से पहले आपको अपनी त्वचा को अच्छे से साफ करना है उसके बाद कॉटन बॉल की मदद से कैस्टर ऑयल को अपने चेहरे पर लगाना है। अब आप ही से 1 घंटे के लिए छोड़ दें और गुनगुने पानी से अपने चेहरे को धो लें। कुछ ही दिनों में आपके चेहरे की सूजन खत्म हो जाएगी।

बालों के लिए लाभ (Castor Oil benefits for hair in Hindi)

बालो के लिए तो अरंडी का तेल वरदान है। आपके बालो की सभी परेशनियो को अरंडी का तेल कुछ ही समय मे ख़तम कर देता है:-

  • स्कैल्प इनफेक्शन से छुटकारा:- कैस्टर ऑयल या अरंडी के तेल में रिसिनोलिक एसिड मौजूद होता है जिसके कारण इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाया जाता है। जब भी स्कैल्प में किसी भी तरह का इन्फेक्शन जैसे खुजली या जलन होती है तो कैस्टर ऑयल उसमें तुरंत राहत दिलाता है।
  • हेयर ग्रोथ:- कैस्टर ऑयल हमारे बालों की ग्रोथ को बहुत तेजी से बढ़ाता है। क्योंकि इसमें वसा अम्ल (फैटी एसिड) अधिक मात्रा में मौजूद होता है। अगर आप रोजाना बाल धोने से पहले इस तेल का उपयोग करते हैं तो आपके बालों की ग्रोथ बहुत अच्छी होगी।
  • दोमुंहे बालों से राहत:- जब बाल दोमुंहे होने लगते हैं तो इससे हेयर ग्रोथ पर भी काफी असर पड़ता है। जब भी बालों में नमी की कमी होने लगती है तो यह दोमुंहे होते हैं इसलिए आप बालों के किनारों पर अरंडी के तेल का उपयोग करें। कुछ ही समय में आपको दोमुंहे बालों से राहत मिलेगी।
  • डैंड्रफ की समस्या से छुटकारा:- डैंड्रफ की समस्या स्कैल्प इनफेक्शन के कारण ही उत्पन्न होती है इसके साथ ही सर्दियों के मौसम में भी बहुत अधिक डैंड्रफ होने लगता है जिसके कारण बाल कमजोर होकर टूटते हैं। डैंड्रफ की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अरंडी के तेल में अदरक के रस को मिलाकर 20 मिनट तक लगा ले और उसके बाद गुनगुने पानी से अपने सर को अच्छी तरह धो लें। अरंडी के तेल का इस तरीके से उपयोग करने पर दंड की समस्या खत्म हो जाएगी।
  • सफेद बालों की समस्या से निजात:- वर्तमान समय में देखा जा रहा है कि सफेद बालों की समस्या से बच्चे से लेकर जवान तक परेशान है। अगर आप भी इस समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं तो उसके लिए अरंडी के तेल को सरसों में मिलाकर उसे अपने बालों पर अच्छी तरह लगा ले। अरंडी का सरसों के तेल में जिंक मैग्नीशियम सेलेनियम आदि तत्व पाए जाते हैं जो बालों को सफेद होने से रोकते हैं।
  • बालों में चमक:- अगर आपके बाल भी प्रदूषण के कारण अपनी चमक खो बैठे हैं और रूठे हो गए हैं तो इसके लिए सबसे बेहतरीन उपाय है कि आप अरंडी के तेल का प्रयोग करें।

कैस्टर ऑयल का बच्चों के लिए क्या लाभ है? (Castor Oil benefits for child)

कैस्टर ऑयल या अरंडी के तेल को बच्चों के लिए एक वरदान माना गया है। पुराने समय में जब किसी भी प्रकार की चिकित्सा प्रणाली नहीं थी और वेद के द्वारा चिकित्सा की जाती थी तो उस समय कैस्टर ऑयल का ही उपयोग किया जाता था। बच्चों के लिए कैस्टर ऑयल के निम्नलिखित लाभ है:-

  • कैस्टर ऑयल से बच्चों की मालिश करने से उनकी त्वचा में नमी बनी रहती है इसके साथ ही उनकी त्वचा चमकदार भी बनती है।
  • वर्तमान समय में हम बच्चों को डायपर पहनाते हैं जिससे कई बार उनकी त्वचा पर लाल निशान या रैशेज हो जाते हैं। कैस्टर ऑयल में उंडिक्लेनिक एसिड मौजूद होता है जो फंगल इन्फेक्शन को खत्म करता है। इसलिए जब इसका प्रयोग हम रैशेज वाली जगह पर करते हैं तो बच्चों को आराम मिलता है।
  • वैसे तो मार्केट में आजकल कई तरह के बेबी हेयर ऑयल मौजूद है लेकिन उनमें केमिकल की मात्रा रहती है। अगर आप अपने बच्चों के लिए उचित तेल का प्रयोग करना चाहते हैं तो इसके लिए कैस्टर ऑयल या अरंडी का तेल सबसे अच्छा है क्योंकि यह बालों को सभी पोषक तत्व प्रदान करता है जिससे बाल लंबे घने व चमकदार बनते हैं।
  • बच्चों को मल त्यागने में कभी-कभी परेशानी होती है उस समय आप अरंडी का तेल शिशु के मलद्वार के आसपास वाली जगह पर लगा दे, जिससे शिशु को मल त्यागने में आसानी रहेगी।
  • जब बच्चों की मांसपेशियों का विकास होता है तो उनके शरीर में दर्द रहता है। उस समय अरंडी का तेल बच्चों को दर्द से राहत दिलाने में बहुत लाभकारी है।
  • जब कभी भी बच्चों का भोजन उचित तरीके से नहीं पचता तो उनके पेट में गैस बनती है जिससे उन्हें कोलिक पेन की समस्या उत्पन्न होती है। उस समय अरंडी के तेल को हल्का सा गर्म करके बच्चों के पेट पर मालिश करने से बच्चों को कोलिक पेन से राहत मिलती है।

गर्भावस्था के दौरान कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल (Castor Oil during pregnancy in Hindi)

डॉक्टर के परामर्श के बिना गर्भवती महिलाओ को अरंडी के तेल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिये क्योकि यह लेबर पैन को बढाता है और इसके प्रयोग से गर्भपात का खतरा भी रहता है। अरंडी के तेल मे लेक्स्टिव पाया जाता है इसलिए अगर कोई महिला इसके एक चमच्च का सेवन भी करती है तो पेट खराब होने की संभावना रहती है।

कैस्टर आयल से होने वाले नुकसान (Castor Oil Ke Nuksan)

हमने आपको अरंडी के तेल के अनेकों लाभ बताए हैं लेकिन इसके साथ ही इसके कुछ नुकसान भी है जो निम्नलिखित है:-

  • कैस्टर ऑयल गर्म प्रकृति का होता है जिसके कारण अगर आप इसका अधिक सेवन करते हैं तो उससे आपको दस्त हो सकते हैं।
  • जब भी आप कैस्टर ऑयल का प्रयोग करें तो सबसे पहले आप एक पैच टेस्ट अवश्य ले क्योंकि कई बार यह किसी स्किन के लिए उपयोगी नहीं होता जिसका परिणाम यह होता है कि आपकी स्किन पर खुजली व सूजन हो सकती है।
  • गर्भावस्था के दौरान अरंडी के तेल का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह गर्म प्रकृति का होता है जिससे गर्भपात की संभावना होती है।
  • कैस्टर ऑयल का बहुत अधिक मात्रा में प्रयोग करने से उल्टी, मितली व पेट में मरोड़ जैसी समस्या उत्पन्न होती है क्योंकि इसमें रिसिन जैसा विषैला तत्व पाया जाता है।

कैस्टर ऑयल का प्रयोग करते समय ध्यान रखने वाली सावधानियां

कैस्टर ऑयल का प्रयोग करते समय कुछ बातों का ध्यान रखें जो कि निम्नलिखित है:-

  • अगर किसी को कब्ज की गंभीर समस्या है तो उसे अरंडी के तेल का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को भी अरंडी के तेल का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना आवश्यक है क्योंकि इससे गर्भपात होता है।
  • जब भी आप बच्चों के शरीर पर अरंडी के तेल से मालिश करें तो ध्यान रखें कि बच्चा अपने हाथ व पैर को मुंह में ना डालें।
  • कभी भी बच्चों के मुंह व प्राइवेट पार्ट पर अरंडी के तेल का उपयोग ना करें।
  • यदि कोई व्यक्ति किसी एलर्जी से पीड़ित है तो उसे अरंडी के तेल का उपयोग करने से पहले परामर्श लेना चाहिए।
  • जिन व्यक्तियों को अपेंडिक्स की समस्या होती है उन्हें अरंडी के तेल का उपयोग नहीं करना चाहिए।
  • अगर किसी व्यक्ति के किसी भी प्रकार की सर्जरी होने वाली है तो उसे डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही अरंडी के तेल का उपयोग करना चाहिए।

कैस्टर ऑयल कहां से खरीदें? (Where to buy castor oil near me)

कैस्टर ऑयल आप निम्नलिखित जगहों से प्राप्त कर सकते है:-

  • जैसा कि हम सभी जानते हैं आजकल सभी चीजे ऑनलाइन उपलब्ध है उसी प्रकार आपको कैस्टर ऑयल भी ऑनलाइन मिल जाएगा।
  • कैस्टर ऑयल किसी भी मेडिकल शॉप से लिया जा सकता है।
  • ऑनलाइन व मेडिकल शॉप के अलावा यह कॉस्मेटिक्स की दुकानों से भी खरीदा जा सकता है।

कैस्टर ऑयल से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न (FAQs)

  • कैस्टर ऑयल क्या है?

    कैस्टर ऑयल पीले रंग का पारदर्शी तरल होता है, जो वनस्पति तेल की श्रेणी मे ही शामिल है

  • कैस्टर ऑयल किस काम आता है?

    यह त्वचा, बाल और सेहत से जुडी सभी समस्याओ को सही करने के काम आता है

  • क्या कैस्टर ऑयल से त्वचा टाइट होती है?

    हाँ, अगर आप उचित तरीके से इसका प्रयोग करते है तो यह त्वचा को टाइट करता है

  • क्या कैस्टर ऑयल को पी सकते है?

    हाँ, कैस्टर ऑयल को आप पी सकते है लेकिन इससे पहले आप अपने डॉक्टर से जरुर परामर्श ले

  • क्या कैस्टर ऑयल वायरस को समाप्त कर सकता है?

    कैस्टर ऑयल मे एंटीवायरल गुण पाया जाता है जो वायरस को समाप्त करने मे अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है

निष्कर्ष

आज इस लेख के जरिये हमने आपको कैस्टर ऑयल क्या है (Castor Oil kya hota hai) या अरंडी का तेल क्या है? इसके क्या लाभ है और इसके साथ ही इसके नुकसान से भी आपको अवगत कराया है। उम्मीद है आपको हमारा लेख पसंद आया होगा अगर आपके मन मे कोई प्रश्न है तो आप हमें ईमेल के जरिये पूछ सकते है।

यह भी देखें 👇👇