नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography in Hindi

नूपुर शर्मा भारतीय जनता पार्टी से सम्बन्ध रखती हैं जो कि भारतीय जनता पार्टी से सम्बंधित कईं अभियानों का हिस्सा रहीं हैं। हाल ही में नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद साहब पर दिए गए विवादित बयान की वजह से उनकी पूरे विश्व में चर्चा हो रही है। हांलाकि इस विवादित बयान के कारण ही उनको भारतीय जनता पार्टी से निकाल दिया गया है।

चूंकि इस विवादित बयान की वजह से इस्लामिक संगठन द्वारा जान से मारने की धमकी के कारण उनको पुलिस सुरक्षा के अंदर रखा गया है। उनके द्वारा यह बयान एक टेलीविज़न शो में डिबेट के दौरान दिया गया। कुछ लोग नूपुर के खिलाफ तो कईं लोग उनके इस बयान का समर्थन भी कर रहे हैं

Table of Contents

नूपुर शर्मा का जीवन परिचय एक नज़र में (Nupur Sharma Biography in Hindi)

nupur sharma bjp party
नामनूपुर शर्मा
जन्म23 अप्रैल 1985
आयु37 साल
जन्म स्थाननई दिल्ली
पिताविनय शर्मा
पेशाराजनेता, वकील
पदभाजपा प्रवक्ता
राजनीतिक पार्टीभारतीय जनता पार्टी
लंबाई5 फुट 3 इंच
वजन50 किलो
धर्महिंदू
जातिब्राह्मण
राशिवृषभ
राष्ट्रीयताभारतीय
वैवाहिक स्थितिअविवाहित
शिक्षाएलएलएम (पोस्ट ग्रेजुएशन)
पता5-B, गिरधर अपार्टमेंट, फिरोजेशाह रोड, नई दिल्ली-110001
शिक्षापोस्ट ग्रेजुएशन (एलएलएम)
वैवाहिक स्थितिअविवाहित
ट्विटर अकाउंटhttps://twitter.com/NupurSharmaBJP

नूपुर शर्मा कौन है? (Nupur Sharma Kaun Hai)

नूपुर शर्मा भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता के रूप में जानी जाती हैं जो दिल्ली बीजेपी की राज्य कार्यकारिणी समिति की सदस्य हैं। इसके साथ ही वह भाजपा की युवा शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) का प्रमुख चेहरा भी रह चुकी हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक करियर को लेकर भाजपा के पार्टी प्रशासन सर्किट में कई पदों पर कार्य किया है।

nupur sharma bjp

नूपुर शर्मा का जन्म और परिवार (Nupur Sharma Family & Birth)

नूपुर शर्मा का जन्म 23 अप्रैल सन 1985 को भारत के नई दिल्ली में हुआ। नुपुर शर्मा ब्राह्मण परिवार से सम्बन्ध रखती हैं। नुपुर शर्मा की उम्र वर्तमान में 37 साल है। वह पेशे से एक राजनेता और वकील हैं। उनके पिता का नाम विनय शर्मा है। सोशल मीडिया के अनुसार, नूपुर शर्मा की माता श्रीमती शर्मा देहरादून की रहने वाली है और उनकी एक छोटी बहन भी है।

नूपुर शर्मा की शिक्षा (Nupur Sharma Education)

नूपुर शर्मा ने दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) से स्कूली शिक्षा पूरी की। इसके बाद इन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के हिंदू कॉलेज, दिल्ली से अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद दिल्ली विश्वविद्यालय से एलएलबी और लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, लंदन से एलएलएम की डिग्री प्राप्त की।

नूपुर शर्मा का राजनितिक करियर (Nupur Sharma Political Career)

नूपुर शर्मा पढ़ाई में काफी होशियार रहीं हैं और पढ़ाई के साथ साथ इनको राजनीति में भी काफी रुचि थी। दिल्ली विश्वविद्यायल में पढ़ाई के दौरान ही ये अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद मे एक एक्टिव मेंबर के तौर पर शामिल हुई थी और इस प्रकार से नूपुर शर्मा ने भारतीय जनता पार्टी को ज्वाइन कर लिया था। यह दिल्ली यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष पद पर भी रह चुकी हैं।

नूपुर शर्मा टीच फॉर इंडिया की यूथ एंबेसडर भी रह चुकी हैं। इसके अलावा नूपुर शर्मा भारतीय जनता युवा मोर्चा की यूथ विंग की राष्ट्रीय कार्यकारी कमेटी की मेंबर भी रह चुकी हैं। नूपुर शर्मा को बीजेपी के द्वारा वर्किंग कमेटी में मीडिया इंचार्ज का युवा मेंबर भी बनाया गया था।

साल 20152015 के दिल्ली विधानसभा चुनावों में पूर्व मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (एएपी) के प्रमुख अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भाजपा उम्मीदवार के रूप में नुपूर शर्मा को चुना गया लेकिन इस चुनाव में वे केजरीवाल से हार गयी थीं।
साल 2015नुपूर को भाजपा प्रवक्ता नियुक्त किया गया और यह मीडिया में अपनी पार्टी का प्रतिनिधित्व करने के लिए विभिन्न मुद्दों में हिस्सा लेती है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2015 में नूपुर शर्मा (Nupur Sharma in 2015 Delhi Legislative Assembly election)

साल 2015 के पहले से ही नूपुर शर्मा को भारतीय जनता पार्टी की कईं अन्य जिम्मेदारियां सौंपी गयी थीं लेकिन 2015 में वह नई दिल्ली की प्रतिष्ठित सीट से आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ नज़र आयी थी। हांलाकि कांग्रेस पार्टी से ज्यादा वोट लेने के बावजूद वह 31,583 वोट के अंतर से अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ चुनाव हार गयी।

नूपुर शर्मा का विवादित बयान (Nupur Sharma ka bayan/Statement)

एक टीवी शो में डिबेट के दौरान एक मुस्लिम स्कॉलर के बार-बार काशी विश्वनाथ मंदिर में मौजूद शिवलिंग को फव्वारा बताए जाने से नूपुर शर्मा की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची, जिसके फलस्वरूप नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद पर एक बयान दिया जो कि विवादों में आ गया।

आज के इस सोशल मीडिया के जमाने में यह बात आग की तरह चारों तरफ फ़ैल गयी और मुस्लिम समुदायों में इसका विरोध शुरू हो गया। नूपुर शर्मा का यह विवादित बयान थोड़े समय में ही अरब देशों तक भी पहुँच गया और कतर, ओमान व सऊदी अरब ने तो इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

चारों तरफ से दबाव में आकर भारतीय जनता पार्टी ने नूपुर शर्मा को राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से 6 साल के लिए निलंबित कर दिया। नूपुर शर्मा के साथ ही नवीन जिंदल को भी पार्टी से बाहर कर दिया गया। नूपुर शर्मा को इस विवादित बयान के कारण इस्लामिक संगठनों से जान से मारने की धमकी आने लगी, जिस वजह से इनको पुलिस सुरक्षा प्रदान की गयी। बीजेपी की तरफ से कहा गया कि भारतीय जनता पार्टी हर धर्म का सम्मान करती है और उनके किसी भी सदस्य को इस तरह की बयानबाजी करने की इजाजत नहीं है।

नुपुर शर्मा के बारे में रोचक तथ्य (Important facts about Nupur Sharma)

  • साल 2009 में गणतंत्र दिवस के विशेष संस्करण के लिए नूपुर शर्मा को अतिथि संपादक के तौर पर टाइम्स ऑफ इंडिया ने आमंत्रित किया था।
  • साल 2009 में हिंदुस्तान टाइम्स के द्वारा भारत की सबसे प्रेरणादायक महिलाओं की सूची में इनका नाम भी शामिल था।
  • नूपुर शर्मा दिल्ली यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष के पद को भी प्राप्त कर चुकी हैं।
  • नूपुर शर्मा जुलाई 2012 में संयुक्त राज्य अमेरिका में 2012 के इंडो-पाक अमेरिकन काउंसिल ऑफ यंग पॉलिटिकल लीडर्स (ACYPL) शिखर सम्मेलन के लिए भारत और भाजपा के प्रतिनिधिमंडल की सदस्य थीं।
  • नूपुर शर्मा ने कैंपस सुरक्षा के लिए सोलर लैंप, वाटर प्यूरीफायर और सीसीटीवी लगाने जैसी कुछ कल्याणकारी परियोजनाएं की हैं।

नूपुर शर्मा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न (FAQs)

नूपुर शर्मा मोदी सरकार में किस पद पर थी?

नूपुर शर्मा मोदी सरकार में भारतीय जनता पत्री के प्रवक्ता के पद पर कार्यरत थीं। हांलाकि वह कॉलेज के समय से ही एबीवीपी की तरह से चुनाव लड़कर दिल्ली विश्वविद्यालय में अद्याक्ष पद पर भी रह चुकी हैं। नूपुर शर्मा भारतीय जनता युवा मोर्चा की यूथ विंग की राष्ट्रीय कार्यकारी कमेटी की मेंबर भी रह चुकी हैं।

भाजपा ने नूपुर के विवादित बयान के बाद क्या कार्यवाही की हैं?

चारों तरफ से दबाव में आकर भारतीय जनता पार्टी ने नूपुर शर्मा को राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से 6 साल के लिए निलंबित कर दिया। नूपुर शर्मा के साथ ही नवीन जिंदल को भी पार्टी से बाहर कर दिया गया। नूपुर शर्मा को इस विवादित बयान के कारण इस्लामिक संगठनों से जान से मारने की धमकी आने लगी, जिस वजह से इनको पुलिस सुरक्षा प्रदान की गयी। बीजेपी की तरफ से कहा गया कि भारतीय जनता पार्टी हर धर्म का सम्मान करती है और उनके किसी भी सदस्य को इस तरह की बयानबाजी करने की इजाजत नहीं है।

नूपुर शर्मा कौन है?

नूपुर शर्मा भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता के रूप में जानी जाती हैं जो दिल्ली बीजेपी की राज्य कार्यकारिणी समिति की सदस्य हैं। इसके साथ ही वह भाजपा की युवा शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) का प्रमुख चेहरा भी रह चुकी हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक करियर को लेकर भाजपा के पार्टी प्रशासन सर्किट में कई पदों पर कार्य किया है।

नूपुर शर्मा विवादों में क्यों है?

नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद पर एक बयान दिया जो कि विवादों में आ गया। यह बात आग की तरह चारों तरफ फ़ैल गयी और मुस्लिम समुदायों में इसका विरोध शुरू हो गया। नूपुर शर्मा का यह विवादित बयान थोड़े समय में ही अरब देशों तक भी पहुँच गया और कतर, ओमान व सऊदी अरब ने तो इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

नुपुर शर्मा की उम्र क्या है?

नुपुर शर्मा की उम्र वर्तमान में 37 साल है।

यह भी देखें