Categories: Haryana

हरियाणा में मिट्टी के प्रकार – Types of Soil in Haryana

Soil in Haryana

हरियाणा  प्रदेश का अधिकतर भाग मैदानी है तथा  कृषि  की उपज  जलवायु और सिंचाई पर निर्भर है । राज्य में पहाड़ी क्षेत्र सीमित हैं  और  मैदानों की मिट्टी नदियों द्वारा बहाकर लाई मिट्टी है। हरियाणा में मुख्य रूप से तीन प्रकार की मिट्टियां पाई जाती हैं –

जलोढ़ मिट्टी – यह चिकनी मिट्टी तथा रेत के बारीक मिश्रण से बनी उपजाऊ मिट्टी है जो रवि तथा खरीफ दोनों प्रकार की फसलों के लिए उपयोगी है । यह मिट्टी हरियाणा के मैदानी भाग में पाई जाती है । इसका रंग पीला बुरा होता है । इसे यमुना और सरस्वती नदी ने यहां लाकर बिछाया है ।

पथरीली मिट्टी – यह मिट्टी हरियाणा प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में पाई जाती है । यह मिट्टी हमें मोरनी की पहाड़ियों पर देखने को मिलती है ।

रेतीली मिट्टी– इस मिट्टी में उपजाऊ तत्वों की मात्रा कम तथा लवण की मात्रा अधिक होती है । इस मिट्टी में पानी सूखने की क्षमता अधिक होती है ।यह मिट्टी राजस्थान से चलने वाली हवाओं द्वारा हरियाणा प्रदेश में लाई जाती है इस तरह की मिट्टी हरियाणा प्रदेश के दक्षिण पश्चिम भाग में दूर-दूर तक फैली हुई है।

यह भी देखें 👉👉 हरियाणा की भौगोलिक संरचना – Geographical structure of Haryana

हरियाणा की भूमि को निम्न तीन भागों में बाटाँ जा सकता है-

  1. पहाड़ी भूमि
  2. मैदानी भूमि
  3. रेतीली भूमि

1.) पहाड़ी : – इस क्षेत्र की मिट्टी पथरीली है  तथा  इस प्रकार की मिट्टी मोरनी की पहाड़ियों पर देखी जा सकती है ।  प्रदेश के दक्षिणी भाग में अरावली पर्वत की पहाड़ियों  उपस्थिति होने  के कारण ही यहां पथरीली और रेतीली मिट्टियां पाई जाती हैI प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्र में मिट्टी पतली और कठोर है।

2.)  मैदानी :- प्रदेश के मैदानी भाग की मिट्टी उपजाऊ है I यह देखने में भूरे पीले रंग की है I यह मिट्टी  यमुना ,सरस्वती आदि नदियों के बहाव के साथ आई है I इस क्षेत्र में अनेक फसलों की पैदावार की जाती है और सबसे उपजाऊ क्षेत्र भी हरियाणा के  मैदानी भाग को ही माना  जाता है I

3.)  रेतीली :- हरियाणा  के  दक्षिण-पश्चिमी भाग  में  रेतीली  मिट्टी पाई जाती है I इस मिट्टी का रंग हल्का भूरा है  यह मिट्टी पड़ोसी राज्य राजस्थान से चलने वाली पवनों के साथ आती है I यह कृषि के लिए अधिक उपजाऊ नहीं मानी जाती है I

admin

Recent Posts

India Independence Day (2020) (हिंदी में) – अन्य कौन से देश 15 अगस्‍त मनाते हैं?

India Independence Day India Independence Day - भारत का स्‍वतंत्रता दिवस हर वर्ष 15 अगस्‍त को देश भर में बहुत… Read More

13 hours ago

रामायण (Ramayan) : महत्वपूर्ण तथ्य, अनसुनी कथाएं, सम्पूर्ण रामायण सार

रामायण (Ramayan) एक संस्कृत महाकाव्य है जिसकी रचना महर्षि वाल्मीकि ने की थी। रामायण के महाकाव्य में 24000 छंद और… Read More

2 days ago

महाभारत काल के 9 लोग जिन्हें आज भी जीवित माना जाता है

हिन्दू धर्म ग्रंथ परम प्रतापी शूरवीरों और महान हस्तियों से सुसज्जित है। कुछ ऋषियों ने अपने तप एवं ज्ञान से… Read More

3 days ago

क्यों श्री कृष्ण ने अभिमन्यु की रक्षा नहीं की?

महाभारत यूं तो भारत के महानतम ग्रंथों में से एक है, साथ ही साथ हमें अधर्म पर धर्म की विजय… Read More

3 days ago

क्यों भीष्म पितामह को अपने जीवन के अंतिम दिन नुकीली शैय्या पर बिताने पड़े?

हमारे हिन्दू धर्म में शुरू से ही कर्म की प्रधानता रही है और इसका सटीक अर्थ हमें महाभारत ग्रन्थ में… Read More

3 days ago

5 ऐसे श्राप जिन्होंने महाभारत काल में अद्भुत भूमिका निभाई

भारत के महान ग्रंथों में से एक है, महाभारत। हिन्दू ग्रंथो में अनेक प्रकार के श्रापों का वर्णन है, और… Read More

3 days ago

For any queries mail us at admin@meragk.in

Hindi Movies Buy Online 👉👉 https://amzn.to/2WVlFwG