मध्य प्रदेश की जलवायु | Climate of Madhya Pradesh

Madhya Pradesh GK, Madhya Pradesh General Knowledge, Madhya Pradesh samanya gyan, mp gk

Climate of Madhya Pradesh – पूरे देश की तरह मध्य प्रदेश की जलवायु भी पूर्णतः मौसमी अर्थात मानसूनी है।

स्वरुप: उष्णकटिबंधीय शुष्क जलवायु

तापमान: औसत 42 डिग्री सेंटीग्रेट (ग्रीष्म ऋतु), 14 डिग्री सेंटीग्रेट (शीत ऋतु)

मध्य प्रदेश में तीन ऋतुएं होती हैं –

  1. शीत ऋतु
  2. ग्रीष्म ऋतु
  3. वर्षा ऋतु

शीत ऋतु

  • राज्य में नवम्बर से फरवरी तक शीत ऋतु रहती है।
  • इस ऋतु में सूर्य की स्थिति भूमध्य रेखा के दक्षिण में होती है।
  • अतः मानसूनी हवाएं उत्तर पूर्व से लौटने लगती हैं। जिससे मध्य प्रदेश का तापमान कम होने लगता है।
  • इस ऋतु में मध्य प्रदेश का औसत तापमान 20.9 डिग्री सेंटीग्रेट से 26.6 डिग्री सेंटीग्रेट के बीच रहता है।
  • इस ऋतु को ‘स्याला’ भी कहते हैं।
  • शीत ऋतु में मध्य प्रदेश के उत्तरी भागों में तापमान 15 डिग्री सेंटीग्रेट से 18 डिग्री सेंटीग्रेट के बीच रहता है,
  • जबकि दक्षिण भागों में 18 डिग्री सेंटीग्रेट से 21 डिग्री सेंटीग्रेट के मध्य रहता है।
  • इस ऋतु में कुछ वर्षा भी होती है। इसे लोग “मावठ” भी कहते हैं ।

ग्रीष्म ऋतु

  • इस ऋतु में तापमान मार्च से जून तक लगातार बढ़ता जाता है, जो दक्षिण और दक्षिण-पूर्व से उत्तर तक और उत्तर-पश्चिम की और बढ़ता जाता है।
  • जून माह से राज्य के उत्तर एवं उत्तरी-पश्चिमी भागों में दिन का उच्चतम तापमान 42 डिग्री सेंटीग्रेट से अधिक हो जाता है।
  • इस मौसम में मानसूनी हवाएं समुद्र से थल की ओर चलने लगती हैं।
  • वायुमंडल में नमी कम होती है एवं धुल भरी गर्म हवाएं भी चलती हैं।
  • इस ऋतु को ‘उनाला’ भी कहते हैं।

वर्षा ऋतु

  • राज्य में मध्य जून से सितम्बर तक वर्षा ऋतु होती है।
  • राज्य में मानसूनी वर्षा बंगाल की खाड़ी और अरब सागर दोनों ही शाखाओं से होती हैं।
  • प्रदेश में सर्वाधिक वर्षा जुलाई तथा अगस्त माह में होती है।
  • प्रदेश में वर्षा की मात्रा सभी स्थानों पर सामान नहीं है।
  • पश्चिम की अपेक्षा (औसत 75 सेमी) पूर्वी मध्य प्रदेश में वर्षा अधिक होती है (औसत 125 सेमी)
  • पंचमढ़ी के महादेव पहाड़ी में सर्वाधिक वर्षा (187 सेमी) होती है।
  • सबसे कम वर्षा ग्वालियर में होती है।
  • इस ऋतु को “चौमासा” भी कहते हैं।
  • राज्य में न्यूनतम तापमान वाला स्थान शिवपुरी तथा अधिकतम तापमान वाला स्थान विदिशा है।
  • मध्य प्रदेश में ऋतु सम्बन्धी आंकड़ों को एकत्रित करने वाली ऋतु वेधशाला इंदौर में है।

मध्य प्रदेश की प्रमुख नदी घाटी परियोजनाएं