Categories: Bihar

बिहार का इतिहास – Bihar History in Hindi

Bihar History in Hindi – बिहार का इतिहास

Bihar History in Hindi – यहां पर बिहार के इतिहास से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य उपलब्ध हैं। ये तथ्य प्रतियोगी परीक्षा की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। यहाँ आप बिहार के इतिहास की जानकारियों का अवलोकन कर सकते हैं।

  • राजधानी पाटलिपुत्र की स्थापना उदयन ने की थी ।
  • पुरापाषाणी स्थलों की खोज मुुंगेर और नालंदा से की गई है।
  • मध्यपाषाण स्थलों  की खोज हजारीबाग, रांची, सिंहभूम तथा संथल परगना (सभी झारखुंड में) से की गई है।
  • नव पाषाण कलाकृतियों की खोज चिंराद और चेचर से की गई है।
  • बिहार क्षेत्र की सर्वप्रथम चर्चा शतपथ ब्राह्मण में मिलती है।
  • महावीर का जन्मस्थान कुण्डाग्राम (बिहार ) में है ।
  • अंग राज्य उल्लेख पहली बार अथर्ववेद में किया गया है। वर्तमान में इसमें खगरिया, भागलपुर तथा मुुंगेर शामिल हैं।
  • अंग राज्य की राजधानी चंपा (वर्तमान में भागलपुर) थी। 
  • मेगास्थनीज का 315 ई . पू. में पाटलिपुत्र में ही आगमन हुआ था ।
  • आर्यभट्ट का सम्बन्ध भी पाटलिपुत्र नगर से है
  • लिछावी वंश की राजधानी वैशाली में स्थित थी।
  • बिहार में तुर्क शासन की स्थापना बख्तियार खिलजी ने की थी ।
  • भगवान महावीर का जन्म कुुंदाग्राम, वैशाली में हुआ था।
  • भगवान महावीर जनात्रिका वुंश से सम्बंधित थे। उनके पिता इस वुंश के प्रमुख थे।
  • बिहार में गोलघर का निर्माण गवर्नर जनरल लार्ड कार्नवालिस के समय में हुआ था ।
  • बिहार में ही पहली बार 1917 में चंपारण में गांधीजी का आगमन हुआ था।
  • विदेह वंश का उल्लेख पहली बार यजुर्वेद में किया गया है। राजा जनक की पुत्री देवी सीता इस वंश से सम्बंधित  थी।
  • मिथिजनक विदेह ने मिथिला की स्थापना की।
  • मगध राज्य का उल्लेख पहली बार अथर्ववेद में किया गया है।
  • मगध राज्य की राजधानी गिरीवृज या राजगीर थी जो पांच पहाडों द्वारा सभी ओर से पहाडों से घिरीहुई थी। बाद में राजधानी को पाटली पुत्र स्थानांतरित कर दिया गया था।
  • हरयंका राजवंश ने अपनी राजधानी राजगीर में स्थापित की।
  • शिशुनाग के समय के दौरान मगध की दो राजधानियां राजगीर और वैशाली थी।
  • बिहार में खिलाफत आंदोलन प्रारम्भ 1919 हुआ था ।
  • बिहार में असहयोग आंदोलन का प्रारम्भ 1920 में हुआ था ।
  • बिहार में किसान सभा का गठन 1929 में हुआ था ।
  • पुण्यमित्र सुुंगा मौयव सशत्र बलों के कमांडर-इन-चीफ थे।
  • बिहार व उड़ीसा का विभाजन 1936 में हुआ था।
  • बंगाल के नबाब मीर कासिम ने मुंगेर को अपनी राजधानी बनाई थी ।
  • चौसा का युद्ध, 1539 ईसा पूर्व – शेर शाह ने हुमायूुं को हराया और सुल्तान-ए-आदिल का खिताब हासिल किया।
  • बिहार का अंतिम अफगान सुल्तान दाऊद खां कर्रानी था।
  • मुग़ल सम्राट शाह आलम द्वितीय ने ईस्ट इंडिया कंपनी को बंगाली बिहारी व उड़ीसा की दीवानी का अधिकार प्रदान किया था।
  • बक्सर का युद्ध- 22 अक्टूबर 1764 को हुआ।
  • बिहार सोशलिस्ट पार्टी की स्थापना जय प्रकाश नारायण ने 1934 में की थी।
  • गोलघर का निर्माण वर्ष 1786 में कप्तान जॉन गौरस्टिन ने किया था।
  • द्वितीय बौद्ध संगीति का आयोजन कालाशोक के शासन में किया गया था।
  • 3 जुलाई, 1857 को, पटना में पुस्तक विक्रेता ‘पीर अली’ के तहत विद्रोह आरम्भ हुआ
  • पटना राजस्व परिषद् की स्थापना वर्ष 1770 में हुई जिसे बाद में वर्ष 1781 में बिहार राजस्व प्रमुख से प्रतिस्थापित कर दिया गया।
  • मेगास्थनीज के पुस्तक इंडिका में राजधानी पाटलिपुत्र के नगर प्रशासन एवं सैन्य प्रशासन की जानकारी मिलती है।
  • बिहार में तुर्क सत्ता की स्थापना 1198 में हुई थी ।
  • मगध की आरंभिक राजधानी राजगीर थी ।
  • प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर, बोध गया में स्थापित है ।
  • भगवन बुद्ध को ज्ञान प्राप्ति बोधगया में हुई थी ।
  • पटना युवक संघ की 1927 में स्थापना की गई
  • मोतिहारी में वर्ष 1928 में बिहार युवक संघ की स्थापना – ग्यान शाह
  • बिहार में होमरूल आंदोलन के संस्थापक मजहरुल हक़ थे ।
  • मौर्यकाल में सर्वाधिक प्रसिद्ध शिक्षा केंद्र तक्षशिला था ।
  • बिहार में चंपारण में गांधीजी ने अपना प्रथम सत्याग्रह किया था ।
  • बिहार सोशलिस्ट पार्टी की स्थापना वर्ष  1931 में गंगा शरण सिन्हा, राम वृक्ष बेनीपुरी और रामानदं मिश्रा ने की।
  • कुंवर सिंह 1857 की क्रांति में बिहार के नेता थे ।
  • पाटलिपुत्र में आयोजित तृतीय बौद्ध परिषद का संरक्षक अशोक थे।
  • चतुर्थ बौद्ध संगीति का आयोजन कनिष्क के समय में हुआ था।
  • द्वितीय बौद्ध संगीति का आयोजन कालाशोक ने किया था।
  • 22 मार्च, 1912, को बिहार की स्थापना की गई।
Subscribe Us
for Latest Updates