बिहार के प्रमुख महोत्सव

bihar gk

बिहार के प्रमुख महोत्सव निम्नलिखित हैं:

राजगीर महोत्सव

राजगीर महोत्सव का प्रथम बार आयोजन 1986 ई० में किया गया था। ऐतिहासिक अजातशत्रु किला मैदान में आयोजित होने वाला यह महोत्सव ऐतिहासिकता, प्राचीनता, परम्परा एवं आधुनिकता के समन्वय का प्रतीक बन गया है।

विक्रमशिला महोत्सव

इस महोत्सव का आयोजन पर्यटन विभाग तथा जिला प्रशासन भागलपुर के संयुक्त तत्वावधान में किया जाता है।

मंदार महोत्सव

भागलपुर की सीमा से जुड़ा बांका जिला मंदार पहाड़ की वजह से काफी प्रसिद्द है। इसी के समीप मंदार महोत्सव का आयोजन होता है। मकर संक्रांति में लगने वाला यह बिहार का महत्वपूर्ण मेला है।

चम्पारण महोत्सव

चम्पारण के महत्त्व को देखते हुए प्रत्येक वर्ष तीन दिवसीय चम्पारण महोत्सव का शुभारम्भ होता है। यह महोत्सव केसरिया बच्चा सिंह कॉलेज के बगल में आयोजित होता है।

बिहार के प्रमुख मेले – Major Fairs in Bihar

वाणावर महोत्सव

जहानाबाद जिला मुख्यालय से लगभग 25 किमी दक्षिण-पूर्व में स्थित वाणावर में प्रत्येक वर्ष दो दिवसीय महोत्सव का आयोजन किया जाता है।

तपोवन महोत्सव

यह महोत्सव मकर संक्रांति के अवसर पर आयोजित किया जाता है, जो तीन दिवसीय होता है।

वैशाली महोत्सव

वैशाली महोत्सव का आयोजन विशेषतया जैन धर्म के प्रवर्तक महावीर पर ही पूर्णतया केंद्रित है। महावीर ने अपने बहुमूल्य जीवन के 30 वर्ष वैशाली में ही व्यतीत किये थे।

मिथिला महोत्सव

मिथिला की समृद्ध संस्कृति एवं मधुबनी की पेंटिंग को जीवंत बनाये रखने के उद्देश्य से प्रत्येक वर्ष मिथिला महोत्सव का आयोजन किया जाता है। मिथिला महोत्सव का आयोजन पर्यटन विभाग, कला संस्कृति एवं युवा कार्य विभाग के द्वारा किया जाता है। मधुबनी में मिथिला चित्रकला संस्थान की स्थापना भी की गयी है, जो महोत्सव का आकर्षण केंद्र होता है।