Categories: Uttarakhand

उत्तराखंड के वन्य जीव अभ्यारण्य – Wildlife Sanctuary of Uttarakhand

Wildlife Sanctuary of Uttarakhand – उत्तराखंड के वन्य जीव अभ्यारण्य निम्न प्रकार हैं:

1. केदारनाथ वन्य जीव विहार (Kedarnath Wildlife Sanctuary)

  • स्थान – चमोली एवं रुद्रप्रयाग
  • क्षेत्रफल – 957 वर्ग किलोमीटर
  • केदारनाथ वन्य जीव विहार जनपद चमोली तथा रुद्रप्रयाग में 957 वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 1972 में की गयी ,
  • यहाँ मुख्यतः भूरा भालू, कस्तूरी मृग, हिम तेंदुआ, घुरल, काकड़ , जंगली सूअर आदि जीव पाये जाते है ,
  • यह उत्तराखंड का सबसे अधिक क्षेत्रफल वाला वन्य जीव विहार है|

2. अस्कोट वन्य जीव विहार (Askot Wildlife Sanctuary)

  • स्थापना –           1986
  • स्थान –           पिथौरागढ़ जनपद
  • क्षेत्रफल –           600 वर्ग किलोमीटर
  • अस्कोट वन्य जीव विहार जनपद पिथोरागढ़ में 600 वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 1986 में की गयी,
  • अस्कोट  वन्य जीव अभ्यारण्य कस्तूरी मृग के लिए प्रसिद्ध है

उत्तराखंड के राष्ट्रीय उद्यान – यहां क्लिक करें –

3.गोविन्द वन्य जीव विहार (Govind Wildlife Sanctuary)

  • स्थान –           उत्तरकाशी
  • क्षेत्रफल –           485 वर्ग किलोमीटर
  • गोविन्द  वन्य जीव विहार जनपद उत्तरकाशी में 485 वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 1955 में की गयी,
  • यहाँ पर मुख्यतः भूरा भालू, कस्तूरी मृग, हिम तेंदुआ, घुरल, काकड़ , जंगली सूअर, जंगली बिल्ली, आदि जानवर पाये जाते है

4. सोनानदी वन्य जीव विहार (Sonanadi Wildlife Sanctuary)

  • स्थापना –           1987
  • स्थान –           पौड़ी गढ़वाल जनपद
  • क्षेत्रफल –           301 वर्ग किलोमीटर
  • सोनानदी  वन्य जीव विहार जनपद पौड़ी गढ़वाल में 301वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 1987 में की गयी,
  • यहाँ पर मुख्यतः हाथी , शेर , घुरल, काकड़ , जंगली सूअर, मगर, घड़ियाल, अजगर आदि जानवर पाये जाते है

5.बिनसर वन्य जीव विहार (Binsar Wildlife Sanctuary)

  • स्थापना –           1988
  • स्थान –           अल्मोड़ा
  • क्षेत्रफल            – 47 वर्ग किलोमीटर
  • बिनसर वन्य जीव विहार जनपद अल्मोड़ा में 47 वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 1988 में की गयी,
  • यहाँ पर मुख्यतः काला  भालू, , घुरल, काकड़ , जंगली सूअर, जंगली बिल्ली, आदि जानवर पाये जाते है

उत्तराखंड के प्रमुख वन आंदोलन – यहां क्लिक करें –

6. मसूरी वन्य जीव विहार (Mussoorie Wildlife Sanctuary)

  • मसूरी वन्य जीव विहार जनपद देहरादून  में 11  वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 1993 में की गयी,
  • यहाँ पर मुख्यतः काला  भालू,  लंगूर, बन्दर ,घुरल, काकड़ , जंगली सूअर आदि जानवर पाये जाते है

7. नन्धौर वन्य जीव विहार (Nandhaur Wildlife Sanctuary)

  • नन्धौर  वन्य जीव विहार जनपद नैनीताल व चम्पावत में 270 वर्ग किमी क्षेत्रफल में फैला है
  • इसकी स्थापना सन् 2012 में की गयी,
  • यहाँ पर मुख्यतः  भालू, बाघ, लंगूर आदि जानवर पाये जाते है
admin

Recent Posts

Kanya Sumangala Yojana – कन्‍या सुमंगला योजना के लिए कैसे करें आवेदन?

Kanya Sumangala Yojana Kanya Sumangala Yojana - बेटियों को उच्च स्तर पर पढ़ें हेतु एवं उन्हें समाज में पुरुषों की… Read More

7 hours ago

Kabir Ke Dohe in Hindi – कबीर के दोहे हिंदी अर्थ सहित

Kabir Ke Dohe - कबीर के दोहे Kabir Ke Dohe - कवि कबीर दास का जन्म वर्ष 1440 में और… Read More

5 days ago

Vidmate Download – Vidmate app free download Youtube Videos

Vidmate Download - Vidmate app free download Youtube Videos Vidmate Download - Vidmate app free download Youtube Videos - Vidmate… Read More

6 days ago

Beti Bachao Beti Padhao – बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ निबंध सहित

Beti Bachao Beti Padhao Yojana - हमारे देश (भारत) में अनेकों प्रकार की परम्पराओं का चलन है, कुछ परम्पराओं को… Read More

1 week ago

Saksham Yojana – सक्षम योजना | Check Status, लाभ, आवेदन

Saksham Yojana - भारत में हर साल जनसँख्या वृद्धि के साथ साथ बेरोजगारी दर में भी वृद्धि हो रही है,… Read More

1 week ago

Sukanya Samriddhi Yojana – सुकन्या समृद्धि योजना – फायदे, नियम

Sukanya Samriddhi Yojana - सुकन्या समृद्धि योजना जिसे सुकन्या योजना भी कहा जाता है, बेटियों के लिए चलाया गया एक… Read More

1 week ago

For any queries mail us at admin@meragk.in