उत्तराखंड का परिवहन तंत्र | Uttarakhand Transportation System

सड़क परिवहन

  • उत्तराखंड में कुल यातायात में सड़क यातायात का भाग 85 % से अधिक है , कुल सड़क परिवहन में से 80 प्रतिशत निजी वाहन है
  • राज्य सड़क परिवहन के अधिकांश भाग पर गढ़वाल मोटर ऑनर्स यूनियन लिमिटेड, गढ़वाल मोटर यूजर्स को-ऑपरेटिव ट्रांसपोर्ट सोसायटी लिमिटेड, टिहरी गढ़वाल मोटर ओनर्स यूनियन लिमिटेड, कुमाऊ मोटर ओनर्स यूनियन लिमिटेड तथा सीमान्त सहकारी संघ  आदि निजी कंपनियों  का विस्तार है।
  • गढ़वाल मोटर आनर्स यूनियन लिमिटेड की स्थापना 1941 में कोटद्वार (पौड़ी)  में हुई थी। इसका एक कार्यालय  ऋषिकेश  में भी है।
  • कुमाऊं मोटर ऑनर्स यूनियन लिमिटेड की स्थापना सन् 1939 में काठगोदाम  में हुई थी। इसका कार्यालय रामनगर तथा टनकपुर  में है।

उत्तराखंड के प्रमुख रेजीमेन्ट, सैन्य छावनियां एवं प्रमुख सैन्यकर्मी

रेल परिवहन

  • उत्तराखंड में 6 जिलो (हरिद्वार, देहरादून, पौड़ी, उधमसिंह नगर , नैनीताल और चम्पावत ) में रेल परिवहन की सुविधा उपलब्ध है
  • सर्वाधिक रेल ट्रैक वाला जिला हरिद्वार है
  • राज्य की पहली रेल लाइन काठगोदाम से किच्चा है जो 1884 से सेवारत है

हवाई सेवा

राज्य के प्रमुख हवाई अड्डे निम्नलिखित है

  • दून (जौली ग्रान्ट ) हवाई अड्डा – देहरादून
  • पंतनगर (फूलबाग) – उधम सिंह नगर
  • नैनी सैनी – पिथोरागढ़
  • गौचर – चमोली
  • चिन्यलिसैण – उत्तरकाशी

उत्तराखंड के प्रमुख पर्वतारोही