Categories: Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ का भूगोल – Geography of Chhattisgarh

Geography of Chhattisgarh

  • छत्तीसगढ़ प्रदेश 17046’  से 2405’ उत्‍तरी अक्षांश  तथा 80015’ से 84020’ पूर्वी देशांतर के मध्‍यम स्थित है।
  • छत्‍तीसगढ़ की आकृति समुद्री घोड़े मछली जैसी है।
  • छत्तीसगढ़ प्रदेश भारत के सात राज्‍यों से घिरा हुआ है।
  • यह दक्षिण पूर्व में उडीसा, दक्षिण में आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, दक्षिण पश्चिम में महाराष्‍ट्र, पश्चिम में मध्‍यप्रदेश, उत्‍तर पूर्व में झारखंड, उत्‍तर में उत्‍तरप्रदेश राज्‍यों से घिरा हुआ है।
  • यह प्रदेश ऊँची नीची पर्वत श्रेणियों से घिरा हुआ घने जंगलों वाला राज्य है।
  • यह उड़ीसा राज्‍य के साथ सर्वाधिक लंबी सीमा बनाता है तथा आंध्रप्रदेश के साथ सबसे कम।
  • यहाँ साल, सागौन, साजा और बीजा और बाँस के वृक्षों की अधिकता है।
  • यहाँ सबसे ज्यादा मिस्रित वन पाया जाता है।
  • सागौन की कुछ उन्नत किस्म भी छत्तीसगढ़ के वनो में पायी जाती है।
  • राज्‍य के उत्‍तर से दक्षिण बिन्‍दु की दूरी 700  किमी एवं पूर्व से पश्चिम बिन्‍दुओं की दूरी 435 किमी है।
  • छत्तीसगढ़ क्षेत्र के बीच में महानदी और उसकी सहायक नदियाँ एक विशाल और उपजाऊ मैदान का निर्माण करती हैं, जो लगभग 80 कि॰मी॰ चौड़ा और 322 कि॰मी॰ लम्बा है।
  • समुद्र सतह से यह मैदान करीब 300 मीटर ऊँचा है।
  • छत्तीसगढ़ राज्‍य का कुल क्षेत्रफल 135192 वर्ग किलोमीटर है, जो कि हमारे देश के कुल क्षेत्रफल का 4.14 प्रतिशत है।
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का 10 वां बडा राज्‍य है।
  • इस मैदान के पश्चिम में महानदी तथा शिवनाथ का दोआब है।
  • इस मैदानी क्षेत्र के भीतर हैं रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर जिले के दक्षिणी भाग।
  • धान की भरपूर पैदावार के कारण इसे धान का कटोरा भी कहा जाता है।
  • मैदानी क्षेत्र के उत्तर में मैकाल पर्वत श्रृखला है।
  • सरगुजा की उच्चतम भूमि ईशान कोण में है।
  • पूर्व में उड़ीसा की छोटी-बड़ी पहाड़ियाँ हैं और आग्नेय में सिहावा के पर्वत शृंग है।
  • छत्तीसगढ़ की जनसंख्‍या 25540196 है, जो कि हमारे देश के जनसंख्‍या के 2.11 प्रतिशत है।
  • दक्षिण में बस्तर भी गिरि-मालाओं से भरा हुआ है।
  • छत्तीसगढ़ के तीन प्राकृतिक खण्ड हैं : उत्तर में सतपुड़ा, मध्य में महानदी और उसकी सहायक नदियों का मैदानी क्षेत्र और दक्षिण में बस्तर का पठार।
  • कर्क रेखा (23.50 उत्‍तरी अंक्षाश) इस राज्‍य के उत्‍तर भाग के 3(तीन ) जिले  कोरिया, बलरामपुर, सूरजपूर जिले से गुजरती है।
  • मानक समय रेखा (82.5 देशांतर ) इस राज्य के 7 (सात) जिले , गरियाबंद, महासमुंद, बलोदाबाजार, जाँजगीर -चंपा, कोरबा, सूरजपुर और कोरिया से होकर गुजरती है।
  • राज्य की प्रमुख नदियाँ हैं- महानदी, शिवनाथ, खारुन, अरपा, पैरी तथा इंद्रावती नदी
  • इस राज्य के 9 जिले किसी भी राज्य की सीमा को स्पर्श नहीं करते हैं, जिनके नाम हैं ; सरगुजा, कोरबा, जाँजगीर-चंपा, बलोदाबाजार, बेमेतरा, रायपुर, दुर्ग, बालोद, और दंतेवाड़ा
  • छत्तीसगढ़ एक भू-आवेष्ठित प्रदेश है, जिसका कोई तट नहीं है और इसकी कोई सीमा किसे दूसरे राज्य से नहीं है।

यह भी देखें 👉👉 छत्तीसगढ़ का इतिहास

Subscribe Us
for Latest Updates